भिण्ड-: दुर्गा पूजा पर्व मनाए जाने तथा सार्वजनिक स्थानों पर प्रतिमा एवं झांकियों के संबंध में दिशा निर्देश जारी

IndiaBelieveNews
Image Credit: IndiaBelieveNews

भिण्ड मध्यप्रदेश-: भिण्ड 22 सितम्बर 2020/ म.प्र. शासन गृह विभाग मंत्रालय भोपाल के निर्देशानुसार आगामी माह में दुर्गा पूजा आदि पर्व मनाये जाने तथा सार्वजनिक स्थानों पर प्रतिमा एवं झांकियों की स्थापना की जावेगी। जिसके परिपेक्ष्य में कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम एवं बचाव हेतु जारी किये गये निर्देशों के साथ ही कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री वीरेन्द्र सिंह रावत द्वारा विभिन्न त्यौहारों के संबंध में अतिरिक्त दिशा निर्देश जारी किए है।  

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री वीरेन्द्र सिंह रावत ने नोबोल कोरोना वायरस ( ब्व्टप्क्.19 ) के संकमण पर प्रभावी नियंत्रण एवं जन सामान्य के स्वास्थ्य हित एवं लोक शांति बनाये रखने के उददेश्य से भिण्ड जिले की राजस्व सीमान्तर्गत दण्ड प्रकिया संहिता की धारा 144 में निहित शक्तियों का प्रयोग कर म.प्र. शासन गृह विभाग मंत्रालय भोपाल द्वारा जारी अतिरिक्त दिशा निर्देशों के अनुपालन में निम्नानुसार आदेश प्रसारित किया है।

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ने कहा कि कोई भी व्यक्ति अति आवश्यक गतिविधियों को छोड़कर रात्रि 10.30 बजे से प्रातः 06.00 बजे के मध्य अकारण आवागमन नहीं करेगा। जिला अंतर्गत समस्त व्यापारिक प्रतिष्ठान (दुकाने) रात्रि 08.00 बजे तक की खोली जा सकेगी। (मेडीकल, रेस्तरां, भोजनालय, राशन एवं खान-पान से संबंधित दुकाने 08.00 बजे के बाद अपने निर्धारित समय तक खोली जा सकेगी) विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर स्थापित की जाने वाली प्रतिमा की ऊंचाई अधिकतम 06 फीट होगी तथा पंडाल का साईज अधिकतम 10ग्10 फीट का रखा जा सकेगा। सामाजिक/ सांस्कृतिक एवं अन्य कार्यक्रमों के आयोजन में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 100 से कम रहेगी तथा आयोजकों द्वारा कार्यक्रम की पूर्व अनुमति संबंधित अनुविभागीय अधिकारी ( राजस्व ) से प्राप्त करना आवश्यक होगा।

धार्मिक/ सामाजिक आयोजन के लिये चल समारोह निकालने की अनुमति नहीं होगी तथा गरबा का आयोजन नहीं हो सकेगा। लाउड स्पीकर बजाने के संबंध में माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जारी गाईडलाईन का पालन किया जाना आवश्यक होगा। मूर्ति विसर्जन के लिये 10 से अधिक व्यक्तियों के समूह को अनुमति प्रदान नहीं की जावेगी। मूर्ति विसर्जन हेतु आयोजकों द्वारा कार्यक्रम की पूर्व अनुमति संबंधित अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) से प्राप्त करना आवश्यक होगा। उक्त के अलावा एमएचए की गाईड लाइन में निहित समस्त प्रतिबंधित निर्देश प्रतिबंधित रहेगे।

अनिवार्य बिन्दु-सार्वजनिक स्थान व कार्य स्थल पर तथा परिवहन के दौरान कोई भी व्यक्ति बिना मुंह को ढ़के हुये अर्थात् बिना मास्क अथवा बिना कपड़ा से ढके घर से बाहर नहीं निकलेगा। आवश्यक सेवाओं की पूर्ति हेतु मुंह को मास्क अथवा कपड़े से ढ़कना अनिवार्य होगा। आयोजन स्थल एवं सार्वजनिक स्थल अथवा कार्य स्थल पर पर्सनल हाइजीन और फिजिकल डिस्टेंसिंग (06 फीट की दूरी) का पालन करना अनिवार्य होगा। प्रत्येक व्यक्ति स्वयं पर्सनल हाइजीन और फिजिकल डिस्टेंसिंग में रहेगा तथा अन्य व्यक्तियों को पर्सनल हाइजीन और फिजिकल डिस्टेसिंग के लिये प्रेरित करेगा। सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान/ दुकानदार सोशल डिस्टेसिंग के लिये 01-01 गज की दूरी पर घेरे बनाना आवश्यक होगा।

प्रतिष्टान/दुकानों पर हैण्ड सैनेटाइजर, मास्क, सोशल डिस्टेसिंग आदि एमएचए की गाईड लाईन का पालन करना अनिवार्य होगा। शासन/प्रशासन की ओर से आवश्यक सेवाओं की पूर्ति एवं कोरोना संक्रमण से बचने हेतु समय-समय पर जारी किये गये निर्देशों एवं आगामी जारी किये जाने वाले निर्देशों का पालन करना आवश्यक होगा। यह आदेश भिण्ड जिले में निवासरत प्रत्येक नागरिक को सम्यक् रूप से व्यक्तिशः तामील कराया जाना संभव नहीं है। अतः सार्वजनिक माध्यमों, इलैक्ट्रोनिक मीडिया एवं सामाचार पत्रों के माध्यम से सर्व साधारण को अवगत कराया जा रहा है। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होकर अन्य आदेश तक लागू रहेगा। आदेश का उल्लंघन करने की दशा में संबंधित के तहत भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 तथा अन्य अधिनियमों के अन्तर्गत दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।

I think all aspiring and professional writers out there will agree when I say that ‘We are never fully satisfied with our work. We always feel that we can do better and that our best piece is yet to be written’.
View all posts

Leave a Reply