BREAKING NEWS : शासन के निर्देश पर रामपुर गार्डन बना हॉटस्पॉट, किया सील रामपुर गार्डन का एक डॉक्टर भी कोरोना पॉजिटिव फेसबुक पर दाऊद इब्राहिम के नाम से बनाई फर्जी आईडी, इमामों पर की गयी टिप्पणी यूनिवर्सिटी मूल्यांकन को लेकर शिक्षक बना रहे तरह तरह के बहाने श्रमिक स्पेशल ट्रेन में पानी नही, जंक्शन पर मजदूरों ने किया हंगामा गर्मी का पारा पहुंचा हाई तो बिजली का मीटर हुआ डाउन विधवा व बुजुर्ग पेंशनरों के खातों में नहीं पहुंची किस्त प्रतियोगिता में खूबसूरती के जलवे बिखेर रही है युवतियां व बच्चे आंख की रोशनी व चेहरे की सुंदरता बढ़ाने में नेचुरल (ब्लीच) है गुणकारी- पपीता फल इटावा-फलों को पकाने में रसायनों का इस्तेमाल न करें कारोबारी:जिलाधिकारीजे. बी. सिंह

मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना कमालुद्दीन ने कहा शब-ए-बारात पर घरों में ही इबादत करे

उत्तर प्रदेश(इटावा):- जसवंतनगर, पेश ईमाम ईदगाह इटावा ने कहा कि शब-ए-बारात इबादत की रात है। इस दिन कब्रिस्तान जाना जरूरी नहीं होता है. इसीलिए सभी अपने घरों में ही रहकर इबादत करें और अपने रिश्तेदारों के अलावा पूरे मुल्क व दुनिया की सलामती के लिए दुआ करें। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने का एक यही तरीका है कि हम अपने-अपने घरों में रहें। लॉकडाउन का शोसल डिस्टेंसिंग में रहकर पालन करें और कानून को अपने हाथ में न लें। लॉकडाउन के बीच आज 9 अप्रैल गुरुवार को शब-ए-बारात है। मुस्लिम समुदाय के लिए ये इबादत की रात होती है. लोग इस दिन अपने बुजुर्गों की कब्र पर जाते हैं। हालांकि कोरोना संक्रमण के चलते उलेमाओं सहित इमाम ईदगाह इटवा मौलाना हजरत मो.कमालुद्दीन अशरफी ने कहा कि इस बार मुस्लिम लोग घर से ही इबादत करें और लॉक डाउन में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए घरों से बाहर न निकलने की अपील की है। उन्होंने कहा रसूल व कुरान कहता है अगर एक शख्स की बजह से एक इंसान का नुकसान हुआ तो उसने तो सारी दुनिया का नुकसान हुआ अगर उसने एक इंसान की जान बचाई तो उसने सारी दुनिया की जान बचाई। कोरोना वायरस से देश और दुनिया में जंग जारी है. पूरे देश में लॉकडाउन जारी है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए बाहर न निकले शब-ए-बारात की रात में कब्रिस्तान न जाने की भी सलाह दी गई है.उन्होंने कहा कि शब-ए-बारात इबादत की रात है. इस दिन कब्रिस्तान जाना जरूरी नहीं होता है। इसीलिए सभी अपने घरों में ही रहकर इबादत करें और अपने रिश्तेदारों के अलावा पूरे मुल्क व दुनिया की सलामती के लिए दुआ करें. कोरोना वायरस को फैलने से रोकने का एक यही तरीका है कि हम अपने-अपने घरों में रहें। लॉकडाउन का पालन करें और कानून को अपने हाथ में न लें मौलाना हजरत मो.कमालुद्दीन अशरफी। 



इटावा ब्यूरो:- सुबोध कुमार पाठक

access_time08 Apr 2020 03:04 AM


#Trending