BREAKING NEWS : शासन के निर्देश पर रामपुर गार्डन बना हॉटस्पॉट, किया सील रामपुर गार्डन का एक डॉक्टर भी कोरोना पॉजिटिव फेसबुक पर दाऊद इब्राहिम के नाम से बनाई फर्जी आईडी, इमामों पर की गयी टिप्पणी यूनिवर्सिटी मूल्यांकन को लेकर शिक्षक बना रहे तरह तरह के बहाने श्रमिक स्पेशल ट्रेन में पानी नही, जंक्शन पर मजदूरों ने किया हंगामा गर्मी का पारा पहुंचा हाई तो बिजली का मीटर हुआ डाउन विधवा व बुजुर्ग पेंशनरों के खातों में नहीं पहुंची किस्त प्रतियोगिता में खूबसूरती के जलवे बिखेर रही है युवतियां व बच्चे आंख की रोशनी व चेहरे की सुंदरता बढ़ाने में नेचुरल (ब्लीच) है गुणकारी- पपीता फल इटावा-फलों को पकाने में रसायनों का इस्तेमाल न करें कारोबारी:जिलाधिकारीजे. बी. सिंह

हनुमान जयंती विशेष: इस हनुमान मंदिर में होता है हर मर्ज का इलाज, यहा भगवान हनुमान कहलाते है "डॉक्टर हनुमान"

मध्य प्रदेश(छतरपुर):- कहा जाता है धरती पर डॉक्टर ही भगवान का दूसरा रुप होता है, क्यूंकि वो ही मरते हुए व्यक्ति को इलाज कर जीवन दे सकता लेकिन एक ऐसा स्थान है जहां भगवान ही डॉक्टर के रूप में पूजे जाते हैं और हर बिमारी का ईलाज करते हैं । जिनके दर्शन मात्र से प्राणियों का कल्याण हो जाता है l ये मंदिर है ग्वालियर चम्बल अंचल के भिण्ड जिले के दंदरौआ गाँव में जहां के आसपास सटे गांव वाले जब कभी बीमार पड़ते है तो किसी डॉक्टर या अस्पताल में दिखाने के अलावा ये लोग भगवान हनुमान डॉक्टर के पास जाते हैं, और उनका ये मंदिर ही इनके लिए अस्पताल से कम नहीं हैं । इस मंदिर की खासियत यें है कि सिर्फ भभूति लगाने मात्र से यहा आए लोग ठीक हो जाते हैं। चाहे कितनी बड़ी बीमारी ही क्यूं ना हो । आधुनिक युग में भी लोगों की ईश्वर के प्रति असीम श्रद्धा देखने को मिलती है और मंदिर में डॉक्टर हनुमान के दर्शन को भक्तों की भारी भीड़ उमड़ती है l

डॉक्टर हनुमान मंदिर में दूर दूर से आते है लोग.....

प्राचीन मान्यता है कि इस मंदिर के हनुमान स्वयं अपने एक भक्त का इलाज करने डॉक्टर बनकर पहुंचे थे और उसी के बाद से इस मंदिर को डॉक्टर हुनमान कहने लगे। इस मंदिर से जुड़ी मान्यता है कि एक साधु शिवकुमार दास को कैंसर था। उसे हनुमान जी ने मंदिर में डॉक्टर के भेष में दर्शन दिए थे । वे गर्दन में आला डाले थे, जिसके बाद साधु पूरी तरह स्वस्थ हो गया । मंदिर से लाखों लोगों की आस्था जुड़ी हुई है। श्रद्धालुओं का मानना है कि,डॉ. हनुमान के पास सभी प्रकार के रोगों का कारगर इलाज है । डॉ. हनुमान के पास सभी प्रकार के रोगों का कारगर इलाज है। यहां भक्त दूर-दूर से आते हैं और हनुमान जी की भभूती से रोगों से मुक्ति पाते हैं।

300 साल पूर्व एक तालाब से निकली थी मूर्ती.....

डॉ. हनुमान सभी प्रकार की बीमारियों के डॉक्टर हैं,लेकिन फोड़े, मुहांस और त्वचा संबंधी रोगों के लिए हनुमान जी की भभूती कारगर इलाज है|इस धाम का नाम 'दर्दहरौआ' शब्द से पड़ा दंदरौआ धाम, महंत रामदास जी महाराज बताते हैं कि प्रभु की मूर्ति लगभग 300 साल पूर्व यहां के एक तालाब से निकली थी,जिसे बाद में मिते बाबा नाम के एक संत ने यहां मंदिर में स्थापित करवाया।तब से मूर्ति की पूजा-अर्चना शुरू की गई।श्रद्धालुओं के विशेष रूप में मुंहासें, अल्सर और कैंसर जैसी बीमारियां भी मंदिर की पांच परिक्रमा करने पर ठीक हो जाती हैं। श्रद्धालुओं का दर्द दूर करने वाले हनुमान जी को पहले दर्दहरौआ कहा जाने लगा, जो कि अपभ्रंश होकर दंदरौआ हो गया। यहां हनुमान जी की जो मूर्ति है वो नृत्य की मुद्रा में है। यह मूर्ति करीब 300 साल पुरानी है।



छ्तरपुर ब्यूरो:- पंकज पराशर

access_time08 Apr 2020 11:04 AM


#Trending