BREAKING NEWS : बेसिक में किताबों की ढुलाई की जांच भी ठंडे बस्ते में पुलिस ने लाइसेंस निरस्तीकरण की रिपोर्ट भेजी मशहूर शायर राहत इंदौरी के इंतकाल पर पेश की खिराज-ए-अकीदत शेरगढ़ में मंदिर की भूमि पर पंचायत भवन न बनवाए जाने को एसडीएम व केंद्रीय मंत्री से मिले ग्रामीण नौकरी का झांसा देने वाली बारह युवतियां परिजनों के सुपुर्द, मुख्य आरोपी भेजा गया जेल आरोग्य सेतु एप पर बारादरी थाने के दरोगा में कोरोना की दहशत मंदिरों में सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रही पाबंदी, घरों में मनाया जन्मोत्सव राधा-कृष्ण की मनमोहक झांकी ने मोह लिया मन मौलाना रशीदी के विवादित बयान पर हिंदू शक्ति दल ने एनकाउंटर की मांग निजीकरण के खात्मे को एकजुट होकर लड़ें : शिवगोपाल

इटावा: बच्चा चोरी के शक में संदिग्ध महिला को लोगों ने पीटा

उत्तर प्रदेश(इटावा):- सिविल लाइन क्षेत्र में स्थित जिला अस्पताल में शनिवार रात बच्चा चोरी के शक में तीमारदार व लोगों ने एक संदिग्ध महिला की जमकर पिटाई कर दी। मारपीट के बाद लोगों ने महिला को छोड़ दिया जो  बाद महिला मौके से कही चली गई। घटना का वीडियो वायरल होने पर एसएसपी ने मामले का संज्ञान लिया और सीओ सिटी को जांच करने के निर्देश दिए। सीओ सिटी ने रविवार को दोषियों की पहचान के लिए वीडियो व सीसीटीवी फुटेज खंगाले। 

डा.भीमराव अम्बेडकर संयुक्त पुरुष एवं महिला जिला अस्पताल में शनिवार की देर रात उस समय हड़कम्प मच गया। जब अचानक लोग एक महिला के पीछे बच्चा चोर-बच्चा चोर कहते हुए उसकी ओ दौड़ पडे़ और उसे पकड़कर उसके साथ लात-घूसों से मारपीट कर दी। महिला चीख पुकार करती रही लेकिन लोगों ने उसे नहीं बक्शा और उसकी जमकर पिटाई की और बाद में उसे छोड़ दिया। जिसके बाद महिला वहां से रफूचक्कर हो गई। लोगों ने बताया कि देर रात करीब साढे़ 11 बजे सड़क हादसे में घायल कोई व्यक्ति जिला अस्पताल में भर्ती था। उसका भाई जयसिंह व बहन सुमन उसे देखने आए थे। जयसिंह सुमन के बेटे को शौच के लिए ले गया था। तभी एक महिला ने उसके भांजे को पकडऩे की कोशिश की। महिला ने उससे कहा कि बच्चा बहुत अच्छा लग रहा है। महिला के हाथ में थैली में भरा सफेद रंग का कोई पाउडर भी था। तभी जयसिंह के परिजन आ गए, बच्चे को महिला के चंगुल से छुड़ाकर अपने साथ ले गए।

 




लोगों ने महिला को बच्चा चोर समझ कर पिटाई कर दी। इस पूरे प्रकरण का किसी ने वीडियो बना लिया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। जानकारी होने पर सिविललाइन थाना प्रभारी निरीक्षक मदन गोपाल गुप्ता मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि पिटाई की शिकार महिला की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। उसे लोगों ने मारपीट कर छोड़ दिया। जिसके बाद वह कहीं चली गई। वहीं वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी आकाश तोमर ने इस मामले की जांच सीओ सिटी वैभव पांडेय को सौंपी हैं। रविवार दोपहर सीओ सिटी ने जिला अस्पताल पहुंचकर घटना का वीडियो व अस्पताल में लगे सीसीटीवी फुटेज समेत लोगों से पूछताछ कर मारपीट करने वालों को चिन्हित करने में जुट गए। सीओ सिटी ने कहा कि किसी को स्वयं दोषी मानते हुए उसके साथ मारपीट करना अपराध है। ऐसा करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

इटावा ब्यूरो:-  राजीव शर्मा 

access_time09 Mar 2020 04:03 AM


#Trending